Home समाचार मुख्य समाचार कोई भी मुस्लमान ये साबित करे की मुस्लिम महिलाओं का श्रृंगार करना हराम है -वसीम रिजवी

कोई भी मुस्लमान ये साबित करे की मुस्लिम महिलाओं का श्रृंगार करना हराम है -वसीम रिजवी

loading...

नई दिल्ली। अपने बयानों के कारण हमेश चर्चाओं में रहने वाले शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने मुस्लिम महिलाओं के श्रृंगार करने पर मुसलमानों चुनौती दे दी है। उन्होंने अपने बयान में कहा कि मुस्लिम महिलाएं सिंदूर लगा सकती हैं, चूड़ियां और मंगलसूत्र पहनती हैं या फिर बिंदी लगाती हैं, तो सरई तौर पर यह बिल्कुल हराम नहीं है अगर हराम किसी भी किताब में लिखा है तो वो लाकर मुझे दिखाए।

 

आपको बता दें उन्होंने ये भी कहाँ है कि दुनियाभर के कट्टरपंथी मुल्लाओं को चैलेंज है यह मेरा कि वे साबित करें कि किस शरई किताब में इसे हराम कहा गया है। चेयरमैन ने कहा कि हिंदुस्तान में यह तालिबानी मानसिकता का प्रचार है। इस तरह का फतवा जारी करने वालों से सख्ती से पेश आने की जरूरत है।

जानकारी के मुताबिक हाल ही में टीएमसी की सासंद नुशरत जहा ने मांग में सिंदूर और गले में मंगलसूत्र पहन जब शपथ लेने संसद पहुंचीं तो वह सत्र के दौरान पारंपर‍िक अंदाज में नजर आईं। नुसरत ने माथे पर सिंदूर, हाथों में मेहंदी और चूड़ा पहना हुआ था। उनकी फोटो सोशल मीडिया पर भी खुब वायरल हुई थी, जिसके बाद देवबंदी उलेमा ने इस पर एतराज जताते हुए नुसरत जहां के खिलाफ फतवा जारी कर दिया था।

Load More Related Articles
Load More In मुख्य समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रवि किशन ने कांग्रेस को कह दी इतनी बड़ी बात,पार्टी में मचा हाहाकार

गोरखपुर से सांसद रविकिशन ने शनिवार को बाबा विश्वनाथ के दरबारा में मत्था टेका। इस दौरान उन्…