Home प्रदेश उत्तर प्रदेश आवारा गोवंश की सुरक्षा के जिलाधिकारि ने कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक, दिए ये निर्देश

आवारा गोवंश की सुरक्षा के जिलाधिकारि ने कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक, दिए ये निर्देश

Loading...

मथुरा –आवारा गोवंश की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जिलाधिकारी ने अधीनस्थों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में की समीक्षा बैठक..जिले में 5 हजार से अधिक अस्थाई गौशाला होने का किया दावा..राल इलाके में जनसहयोग से 136 एकड़ में तैयार की जा रही है गौशाला। फिर भी शहर से लेकर गांव तक सड़को पर आवारा गोवंश घूम रहे हैं। योगी सरकार की योजनाओं की लोग सराहना कर रहे हैं..

लेकिन जिले स्तर पर अधिकारी उन्हें सफल बनाने में नाकाम साबित होते दिखाई दे रहे हैं.. मथुरा में शहर से लेकर गांव तक सड़कों पर आवारा गोवंश घूमते हुए दिखाई देते हैं.. इधर जिला प्रशासन जिले में 5000 अस्थाई गौशाला होने का दावा कर रहा है… लगता है जिला स्तर पर अधिकारी केवल बैठक और कागजों में ही सरकार की योजनाओं पर काम कर रहे हैं.. अगर जमीनी स्तर पर 5000 अस्थाई गौशाला सही तरीके से सक्रिय होती..

तो शायद आज शहर से लेकर गांव तक आवारा गोवंश सड़कों पर दिखाई नहीं देते.. मथुरा में बड़ी-बड़ी गई कई गौशाला है.. उसके बावजूद भी आवारा गोवंश से किसान और स्थानीय लोग इस कदर परेशान हैं कि उनका जीना मुश्किल हो गया है.. सड़कों पर निकलने से पहले लोग आवारा पशुओं की तरफ ध्यान देते हैं और आए दिन आवारा पर गोवंश की बजह से हादसे से हो रहे हैं… वहीं किसान का तो आवारा गोवंश में जीना मुश्किल कर दिया है पूरी फसल को ही आवारा गौवंश ने चौपट कर दिया अभी भी किसानों को आवारा गोवंश से कोई निजात नहीं मिली है।

Load More Related Articles
Load More In उत्तर प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

मऊ में समाधान दिवस के आयोजन के मौके पर नाराज लेखपालों ने किया कार्यबहिष्कार, दी ये चेतावनी

मऊ : जिले के सदर तहसील पर मंगलवार को समाधान दिवस का आयोजन किया गया। लेकिन एसडीएम अंकुर लाठ…